ग्लोबल वार्मिंग और बदलते मौसम से पशुओं में बढ़ रही बीमारी: प्रोफेसर राजबीर




Listen to this article
  • र्कैंट क्षेत्र में आयोजित निशुल्क पशु चिकित्सा शिविर में 110 पशुओं की हुई जांच

मेरठ।
पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पशुओं विशेषकर गायों में बढ़ रही बाँझपन समस्या के समाधान के लिए कृषि विवि और पशुपालन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में इफको टोकियो जनरल इंश्योरेंस लिमिटेड द्वारा प्रायोजित परियोजना के माध्यम से मेरठ कैंट में निशुल्क पशु स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया।

पशु स्वास्थ्य शिविर का मार्गदर्शन कृषि विवि के कुलपति डॉ के. के. सिंह तथा पशुपालन विभाग के अपर निदेशक डॉ अरुण जादौन ने किया। इस अवसर पर प्रोफेसर राजवीर सिंह ने कहा कि ग्लोबल वार्मिंग और बदलते मौसम के दुष्प्रभाव से पशुओं में बीमारियों का प्रकोप बढ़ रहा है।

इस अवसर पर परियोजना प्रभारी डॉ अमित वर्मा ने बताया कि जूं एवं किलनी पर नियन्त्रण हेतु साईंपरमेथ्रिन अथवा अमितराज नामक रसायन 02 एमएल प्रति लीटर में घोलकर पशुओं पर स्प्रे करना चाहिए। साथ ही किसानों को अपने पशुओं की नियमित रूप से डीवर्मिंग एवं टीकाकरण करने के साथ उनकी शरीर की पोषक स्थिति और समग्र स्वास्थ्य में सुधार के लिए खनिज-विटामिन मिश्रण पूरक खिलाने के लिए सलाह दी गई।

शिविर में 110 पशुओं में कृमि नाशक, वाह्य परजीवी नाशक व विभिन्न प्रकार की बीमारियों जैसे बाँझपन, डायरिया, भूख न लगना, मिट्टी खाना आदि का उपचार कृषि विवि के पशु चिकित्सा वैज्ञानिकों द्वारा नि:शुल्क किया गया। शिविर में पशुचिकित्सा महाविद्यालय के डा० अमित वर्मा, डा० अरबिंद सिंह, डा० अजीत कुमार सिंह, डा० अखिल पटेल ने पशुओं की जाँच कर उचित परामर्श दिया। शिविर का आयोजन पशु चिकित्सा अधिकारी डा० निलय कुमार ने किया ।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *