डीएवी सेंटेनरी पब्लिक स्कूल के स्टूडेंटस को ट्रैफिक के नियमों के प्रति किया जागरूक




Listen to this article

नवीन चौहान.
डीएवी सेंटेनरी पब्लिक स्कूल जगजीतपुर के छात्र छात्राओं को यातायात के नियमों के प्रति जागरूक किया गया। साथ ही ये भी अपील की गई कि वह अपने साथी और परिजनों को भी यातायात के नियमों का पालन करने के लिए जागरूक करें। यातायात पुलिस की ओर से चलाए जा रहे अभियान के तहत आज डीएवी जगजीतपुर में यातायात जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया था।

काम को समय से पूर्व अथवा समय पर कैसे खत्म किया जाए इसी उधेड़बुन में अक्सर हम जल्दबाज़ी कर जाते हैं। जल्दबाज़ी के चलते ही हम सड़क पर भी तेज़ वाहन चलाकर शीघ्रातिशीघ्र अपने गंतव्य तक पहुंचना चाहते हैं और दुर्घटना का सामना कर बैठते हैं। अभिभावकगण अपने बच्चों को छोटी आयु में ही दुपहिया वाहन एवं कार चलाने की अनुमति दे देते हैं। इसी संदर्भ में 12.9.2022 को डीएवी सेन्टेनरी पब्लिक स्कूल, जगजीतपुर, हरिद्वार में यातायात जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

विद्यालय में एक जूनियर ट्रैफिक फोर्स का गठन भी यातायात पुलिस द्वारा किया गया है और ये बच्चे पढ़ाई के साथ-साथ अपनी भूमिका बड़ी कुशलता से निभा भी रहे हैं। विद्यालय के कार्यवाहक प्रधानाचार्य मनोज कुमार कपिल ने विद्यालय में उपस्थित यातायात पुलिस कर्मियों का स्वागत पुष्प गुच्छ द्वारा किया। सब इंस्पैक्टर ट्रैफिक हरीश अधिकारी ने उपस्थित बच्चों को सम्बोधित करते हुए यातायात नियमों से अवगत कराया तथा हैलमेट पहनकर ही दुपहिया वाहन की सवारी करने की सलाह दी। दुर्घटना को किस प्रकार से रोका जा सकता है और सड़क पर वाहन चलाते समय किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, उन पर प्रकाश डाला।

सब इंस्पेक्टर ट्रैफिक विशम्भर दत्त ने सभी बच्चों को बताया कि तृतीय पक्ष बीमा क्यों आवश्यक है? सब इंस्पेक्टर मोहन पंवार ने यातायात संकेतों के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी बच्चों को दी। उपस्थित छात्र-छात्राओं ने यातायात पुलिस कर्मियों से अपने अनुभव साझा किए। तदुपरान्त विद्यालय के कार्यवाहक प्रधानाचार्य मनोज कुमार कपिल ने बच्चों को सड़क पर वाहन चलाते समय सर्तक रहने की सलाह दी और यातायात पुलिस कर्मियों का धन्यवाद किया। मंच संचालन एनएसएस की कार्यक्रम अधिकारी पूनम गक्खड़ ने किया। इस कार्यक्रम में विद्यालय की एनएसएस यूनिट के स्वयंसेवी, विद्यालय की जूनियर ट्रैफिक फोर्स के सदस्य तथा कक्षा ग्यारहवीं के विद्यार्थी शामिल थे।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *